ALL Big news National news International news
नागरिकता संशोधन बिल को लेकर शिवसेना ने रखी  ये शर्त, कहा जबतक... 
December 10, 2019 • Prabhat Vaibhav Bureau

 

मुंबई। नागरिकता संशोधन बिल (सीएबी) को लेकर हिन्दुत्व का बखान करने वाली शिवसेना का स्टैंड लगातार बदल रहा है। लोकसभा में बिल का समर्थन करने के बाद शिवसेना चीफ और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि जबतक बिल के बारे में सारी बातें स्पष्ट नहीं की जाती हैं, हम इसका समर्थन नहीं करने वाले है। 

इससे पहले शिवसेना द्वारा लोकसभा में बिल का समर्थन किए जाने पर कांग्रेस ने हैरानी जाहिर की थी। राहुल गांधी ने भी ट्वीट करके कहा कि जो भी इस बिल का समर्थन कर रहा है, वह देश की बुनियाद पर हमला कर रहा है।

उद्धव ने कहा है, जब तक बिल के बारे में बातें स्पष्ट नहीं होतीं,हम इसका समर्थन नहीं करने वाले है। अगर कोई भी नागरिक इस बिल के कारण डरा हुआ है, उसकी शंका दूर की जानी चाहिए। वे हमारे नागरिक हैं, इसकारण  उनके सवालों का जवाब दिया जाना चाहिए।' गौरतलब है कि शिवसेना सांसद संजय राउत ने भी कहा है कि लोकसभा में जो कल हुआ, उस भूल जाइए।

भाजपा पर हमला बोलते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा, यह एक भ्रम है कि जो भी असहमत हो, वह देशद्रोही है। हमारी पार्टी के द्वारा नागरिकता संशोधन बिल में कुल बदलावों का सुझाव दिया। हम इस पर राज्यसभा में विस्तृत चर्चा चाहते हैं, जिससे चीजें और स्पष्ट हो सकें। यह एक भ्रम है कि बीजेपी ही एकमात्र पार्टी है,जो देश की चिंता करती है। 

उद्धव ठाकरे के इस बयान को राहुल गांधी के उस ट्वीट से भी जोड़कर देखा जा रहा है, जिसमें राहुल ने बिल का समर्थन करने वालों के बारे में कहा कि जो भी इस बिल का समर्थन कर रहा है, वह देश की बुनियाद पर हमला कर रहा है। राहुल गांधी ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, ' 'नागरिकता संशोधन विधेयक भारतीय संविधान पर हमला है, जो कोई भी इसका समर्थन करता है वह हमारे देश की बुनियाद पर हमला और इसे नष्ट करने का प्रयास कर रहा है।'